Class 5 Hindi Solutions for Chapter 3-Khilaunewala

0 comment 17551 views
class 5th hindi solution khilaunewala

रिमझिम कक्षा 5

Class 5 Hindi Solutions

‘खिलौनेवाला’
कवयित्री – सुभद्रा कुमारी चौहान जी

यहाँ आपको इन सब के बारे में जानकारी मिलेगी – Class 5 Hindi Solutions/खिलौने वाला कविता / रिमझिम क्लास 5 /खिलौने वाला हिंदी कविता/खिलौनेवाला कविता का सारांश/खिलौनेवाला कविता के प्रश्न उत्तर/रिमझिम कक्षा 5 के प्रश्न उत्तर/कक्षा 5 हिंदी रिमझिम के लिए एनसीईआरटी समाधान/रिमझिम क्लास 5/कक्षा 5 की कविता/खिलौना पर कविता

खिलौनेवाला कविता का सारांश

Class 5 Hindi Solutions for Chapter 3 – कक्षा पॉँच की खिलौनेवाला कविता सुभद्रा कुमारी चौहान जी द्वारा लिखी एक बहुत ही खूबसूरत कविता है …जिसमें उन्होंने एक बच्चे के मन की कोमल भावनाओं को अभिव्यक्त किया है ..

अक्सर बच्चे बचपन में अपने माता-पिता से खिलौने मॉँगने की जिद करने लगते हैं, और जब हमारे गाँव में या शहर की गलियों में खिलौनेवाला आता है तो बच्चे अपनी मनपसंद के तरह-तरह के खिलौने लेते भी हैं.. कोई गुड्डा, कोई गुड़िया, तो कोई गाड़ी, आदि-आदि,

मगर इस कविता में एक ऐसा बच्चा भी है जो भगवान राम के चरित्र से बड़ा प्रभावित है, जो बाकि बच्चों की तरह खिलौने नहीं बल्कि राम जी के अस्त्र, धनुष-बाण लेना चाहता है ..

ताकि वो भी उन के जैसे अस्त्र चला सके और अन्यायियों का जड़ से खात्मा कर सके.. ऐसी कोमल और मनमोहक भावनाएँ एक बच्चे के माध्यम से इस कविता में व्यक्त की गई हैं…

खिलौनेवाला कविता की पूरी पंक्तियाँ

वह देखो माँ आज
खिलौनेवाला फिर से आया है।
कई तरह के सुंदर-सुंदर
नए खिलौने लाया है।

हरा-हरा तोता पिंजड़े में
गेंद एक पैसे वाली
छोटी सी मोटर गाड़ी है
सर-सर-सर चलने वाली।

सीटी भी है कई तरह की
कई तरह के सुंदर खेल
चाभी भर देने से भक-भक
करती चलने वाली रेल।

गुड़िया भी है बहुत भली-सी
पहने कानों में बाली
छोटा-सा ‘टी सेट’ है
छोटे-छोटे हैं लोटा थाली।

‘खिलौने वाला कविता’

Class 5th Hindi Kavita Solutions

छोटे-छोटे धनुष-बाण हैं
हैं छोटी-छोटी तलवार
नए खिलौने ले लो भैया
ज़ोर-ज़ोर वह रहा पुकार।

मुन्‍नू ने गुड़िया ले ली है
मोहन ने मोटर गाड़ी
मचल-मचल सरला करती है
माँ ने लेने को साड़ी

कभी खिलौनेवाला भी माँ
क्‍या साड़ी ले आता है।
साड़ी तो वह कपड़े वाला
कभी-कभी दे जाता है

अम्‍मा तुमने तो लाकर के
मुझे दे दिए पैसे चार
कौन खिलौने लेता हूँ मैं
तुम भी मन में करो विचार।

तुम सोचोगी मैं ले लूँगा।
तोता, बिल्‍ली, मोटर, रेल
पर माँ, यह मैं कभी न लूँगा
ये तो हैं बच्‍चों के खेल।

मैं तलवार खरीदूँगा माँ
या मैं लूँगा तीर-कमान
जंगल में जा, किसी ताड़का
को मारुँगा राम समान।

‘खिलौनेवाला कविता’

तपसी यज्ञ करेंगे, असुरों-
को मैं मार भगाऊँगा
यों ही कुछ दिन करते-करते
रामचंद्र मैं बन जाऊँगा।

यही रहूँगा कौशल्‍या मैं
तुमको यही बनाऊँगा।
तुम कह दोगी वन जाने को
हँसते-हँसते जाऊँगा।

पर माँ, बिना तुम्‍हारे वन में
मैं कैसे रह पाऊँगा।
दिन भर घूमूँगा जंगल में
लौट कहाँ पर आऊँगा।

किससे लूँगा पैसे, रूठूँगा
तो कौन मना लेगा
कौन प्‍यार से बिठा गोद में
मनचाही चींजे़ देगा।

शब्दार्थ –

शब्द – अर्थ

बाली – कान में पहनने वाला गहना
मचल – जिद
मनचाही – पसंदीदा
वन – जंगल
भली – अच्छी
विचार – सोच
पुकार – बुलावा
ताड़का – एक राक्षसी, जिसे श्री रामचंद्र जी ने मारा था
तपसी – तपस्या करने वाले ऋषि, मुनि
यज्ञ – हवन-पूजन , धार्मिक कर्म
असुर – दैत्य , राक्षस

खिलौनेवाला कविता के प्रश्न उत्तर –

प्रश्न 1. खिलौनेवाला कौन – कौन से खिलौने बेचने आया था ?
उत्तर: खिलौनेवाला तोता , रेल, तीर – कमान, मोटरगाड़ी, बिल्ली , तलवार , लोटा- थाली आदि
खिलौने बेचने आया था |

प्रश्न 2 सरला अपनी माँ से क्या लेने की जिद कर रही थी ?
उत्तर : सरला अपनी मााँ से जिद कर रही थी कि वह अपने लिए खिलौनेवाले से साड़ी ले ले |

प्रश्न 3: मााँ ने बालक को खिलौने खरीदने के लिए कितने पैसे दिए ?
उत्तर: मााँ ने बालक को खिलौने खरीदने के लिए चार पैसे दिए |

class 5 Hindi Solution for chapter 3

प्रश्न 4: बालक कौन – कौन से खिलौने खरीदना चाहता है और क्यों ?
उत्तर : बालक तीर-कमान, ताकवर आदि खिलौने खरीदना चाहता है | जिससे वह असुरों को मारेगा
और जंगल में जाकर तीर – कमान चलाएगा ।

प्रश्न5: वन में जाने की बात सोचकर बालक दुविधा में पड़ गया ?
उत्तर : उसने सोचा कि मैं मााँ के बिना वन में कैसे रह पाऊँगा ? कौन मुझे पैसे देगा? और कौन मुझे मनाएगा ? मााँ के बिना ये सब कौन करेगा ? ऐसा सोचकर वह दुविधा में पड़ गया |

Class 5 Hindi Solution for Chapter 3 – Khilaunewala

प्रश्न6: निम्नलिखित लोगों से आप कौन-सी चीज खरीदेंगे –

खिलौनेवाला – खिलौना
ग्वालिन — दूध
हलवाई – मिठाई
कुम्हार – मिटटी के खिलौने या बर्तन
सुनार — सोना
लुहार — लोहा

प्रश्न7: निम्नलिखित चीजें कैसे काम करती हैं? कविता के आधार पर लिखिए |
1. मोटर गाड़ी कै से चलती है ? — सर –सर –सर
2. रेल कैसे चलती है ? — भक – भक – भक
3. खिलौनेवाला बच्चों को कैसे पुकार रहा है? — ले लो भैया खिलौने ले लो

खिलौनेवाला कविता के अभ्यास-प्रश्न -2

प्रश्न8: खिलौनेवाला शब्द संज्ञा में“ वाला” जोड़ने से बना है | नीचे लिखे वाक्यों रेखांकित हिस्सों को
ध्यान से देखो विशेषण, संज्ञा, और क्रिया आदि पहचानो |
क . पानवाले की दुकान आज बंद है |
पानवाला = जातिवाचक संज्ञा

ख. मेरी दिल्लीवाली मौसी बस कंडक्टर है |
दिल्लीवाली – व्यक्तिवाचक संज्ञा

ग. महमूद पााँच बजे वाली बस से आएगा |
पॉँच बजे वाली = विशेषण

घ. नंदू को बोलने वाली गुड़िया चाहिए |
बोलने वाली = क्रिया

ङ. मैं रात वाली गाड़ी से राजस्थान जाऊँगी |
रात वाली = विशेषण

च. इस सामान को ऊपरवाले कमरे में रख दो |
ऊपर वाले = क्रिया विशेषण

Download PDF for Class 5th Hindi Chapter 3 KhilaunewalaClass 5 Hindi Solution Chapter 3 Khilaunewala

[embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=YuGCfaXWuUo[/embedyt]

अगर आप इस कविता की लय जानना चाहते हैं मतलब, किस तरह इस सुन्दर कविता को गा कर पढ़ा जाए तो आप मेरी ये वीडियो आप देख सकते हैं , अगर पसंद आए तो आप मेरे YouTube Channel से भी जुड़ सकते हैं, वहाँ पर मैं आपको वीडियो के माध्यम से हिंदी में आई जटिलताओं को आसान भाषा में समझाने की कोशिश करता हूँ ।

फिल्हाल मेरा ये प्रयास आपको कैसा लगा जरूर बताइएगा, क्योंकि आपकी प्रतिक्रिया मेरे लिए बहुत ख़ास है

ब्लॉग पर आने के लिए आपका शुक्रिया।

Leave a Comment

Don`t copy text!